जैव सुरक्षित वातावरण में रहने से तालमेल बेहतर हुआ : गुरजंत

बेंगलुरू । भारतीय पुरुष हॉकी टीम के स्ट्राइकर गुरजंत सिंह ने कहा है कि कोरोना महामारी के इस दौर में टीम के आपसी रिश्ते बेहतर हुए हैं। गुरजंत ने कहा कि पिछले एक साल के दौरान ज्यादातर समय जैव सुरक्षित वातावरण में एकसाथ रहने से खिलाडिय़ों के बीच टोक्यो ओलंपिक से पहले तालमेल बढ़ा है। इस स्ट्राइकर ने कहा, हम सभी पिछले एक साल से शिविर में हैं और मुझे नहीं लगता कि किसी अन्य टीम ने लॉकडाउन के दौरान इतना अधिक समय साथ में बिताया होगा। गुरजंत ने कहा, मुझे लगता है कि यह एक सकारात्मक पक्ष है कि हम सभी इतने लंबे समय से एक साथ हैं। उन्होंने कहा कि टीम की नजरें अब आगामी ओलंपिक खेलों पर हैं और वह एक इकाई के तौर पर काम कर रही है।
गुरजंत ने कहा, राष्ट्रीय स्तर पर लॉकडाउन समाप्त होने के बाद भी हमने अभ्यास जारी रखा। हमने कड़ी मेहनत जारी रखी और इस दौरान एक दूसरे से साथ रहे और बात की। इससे हमारे बीच एक दूसरे को लेकर स्वाभाविक समझ पैदा हुई और इसी कारण टीम इकाई के तौर पर काम कर रही है, इससे मैदान पर भी तालमेल बेहतर हुआ है। उन्होंने कहा, इसी कारण यूरोप और अर्जेंटीना दौरे में टीम बेहद सफल रही है। अब टीम का लक्ष्य ओलंपिक में बेहतर प्रदर्शन कर जीत दर्ज करना रहेगा।

शेयर करें